Beautiful Poem by Prasoon Joshi on Currency Notes Demonetisation – एक सच्चा कदम उठाया है…

beautiful-poem-by-prasoon-joshi-on-currency-notes-demonetisation-%e0%a4%8f%e0%a4%95-%e0%a4%b8%e0%a4%9a%e0%a5%8d%e0%a4%9a%e0%a4%be-%e0%a4%95%e0%a4%a6%e0%a4%ae-%e0%a4%89%e0%a4%a0%e0%a4%be%e0%a4%af
Pic: Wikimedia Commons

एक सच्चा कदम उठाया है , एक अच्छा कदम उठाया है,

मेरे देश के दिल में झांको तो, मेरा देश आज मुस्काया है,

एक सच्चा कदम उठाया है , मेरा देश आज मुस्काया है,

एक नया सवेरा लाना है, मेरे देश ने है संकल्प किया,

अब रात अँधेरी और नहीं, ज़िद पर है आज एक दीया,

एक नया उजाला आया है,

एक सच्चा कदम उठाया है, मेरा देश आज मुस्काया है,

जब कदमों में दृढ निश्चय हो, कंकर पत्थर पिस जाते हैं,

जब देश प्रेम हो आँखों में, कांटे भी शीश झुकाते हैं,

अब सच्चा मोती पाया है,

एक सच्चा कदम उठाया है, मेरा देश आज मुस्काया है,

कर चुका फैसला देश मेरा, अब तो मंजिल तक जाना है,

जो विष है आज हवाओं में, उसे जड़ से आज मिटाना है,

एक प्रण है जो लहराया है ,

एक सच्चा कदम उठाया है, मेरा देश आज मुस्काया है,

आने वाला कल पूछेगा, हम गर्व से आगे आएँगे,

हमने भी देश बनाया था, ये सीना तान बताएंगे,

देखो सूरज उग आया है,

एक सच्चा कदम उठाया है, मेरा देश आज मुस्काया हैl

Source: Facebook

SHARE